जब संजय खान ने जान पर खेलकर जीनत अमान को गुंडों से बचाया

0
474
संजय खान सिर्फ नाम के ही पठान नहीं हैं बल्कि पठानों का गरम खून तीनों भाइयों फिरोज खान, संजय खान और अकबर खान में उबाल मारता रहता है. खासकर संजय खान तो कुछ ज्यादा ही गरम मिजाज माने जाते रहे हैं. खान धर्मेंद्र से लेकर ऋषि कपूर तक से भिड चुके हैं. कईयों से पिट चुके हैं तो कईयों को पीट भी चुके हैं. इस खान में गज़ब की डेयरिंग रही है. साल 1973 में जब एक फिल्म के सेट पर कई लोकल गुंडों ने जीनत अमान को घेर कर उनके साथ बदसलूकी करने की कोशिश की तो खान अकेले सबसे भिड गए और उन्हें भागने पर मजबूर कर दिया. इस कोशिश में वो बुरी तरह घायल भी हो गए.

बात 1973 की है… संजय खान और जीनत अमान बीआर चोपड़ा की फिल्म ‘धुंध’ की शूटिंग देवलाली में कर रहे थे. गांव के लोगों को जब शूटिंग के बारे में पता चला तो उन्होंने भीड़ लगानी शुरू कर दी, जिन्हें गार्ड्स की मदद से सेट से भगा दिया गया. इससे कुछ लोकल लोग बुरी तरह नाराज हो गए. उनमें से कुछ लोगों ने एक दिन हथियार लेकर पूरी यूनिट को घेर लिया. भीड़ को देखकर सारे कलाकार भाग खड़े हुए लेकिन संजय खान और जीनत अमान वही खड़े रहे. भीड़ के गुंडों ने जीनत अमान को पकड़ लिया और उनसे छेड़खानी करने लगे.

पहले तो संजय खान ने उन्हें समझाने की कोशिश की लेकिन जब वो नहीं माने तो खान उनसे भिड गए. इस कोशिश में उन्हें काफी चोटें भी आई. जब लोग जीनत अमान को खींचकर बाहर ले जाने जाने लगे तो और कोई चारा ना देखकर संजय खान ने अपनी पिस्तौल निकालकर दनादन फायरिंग शुरू कर दी. शायद लोगों को ये अंदाजा नहीं था कि संजय खान के पास हथियार भी होगा. इसलिए जब गोलियां चलने लगी तो लोग जीनत को छोड़कर भाग खड़े हुए. इस तरह संजय खान ने अपने हीरोगिरी से जीनत को बचा लिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here