जब राज कुमार ने शत्रुघ्न सिन्हा के हाथों मरने से कर दिया इंकार

0
162
राजकुमार अव्वल दर्जे के मूडी अभिनेता थे. फिल्म की स्टोरी लाइन कुछ भी हो राजकुमार को अगर उसमें सामने वाले अभिनेता से ज़रा भी कमतर दिखाया जाता तो वो पूरी स्क्रिप्ट में ही फेरबदल करवा देते. उनका रूतबा ही ऐसा था की बड़े से बड़े निर्देशक भी उनकी बात टालने की हिम्मत नहीं जुटा पाते. कई बार इसी चक्कर में पूरी फिल्म का ही कबाड़ा हो जाता.

1988 में नरेश सहगल मल्टी स्टारर फिल्म ‘महावीरा’ बना रहे थे. इस फिल्म में बॉलीवुड के लगभग सारे बड़े स्टार काम कर रहे थे, जिसमें धर्मेंद्र, शत्रुघ्न सिन्हा से लेकर राजकुमार तक का नाम शामिल था. इस फिल्म की एक खासियत ये थी की क्लाइमैक्स में हर स्टार की मौत हो जाती है. राज कुमार को जब इस फिल्म की कहानी सुनाई गयी तो उन्हें बिलकुल पसंद नहीं आई. नरेश सहगल से उनके ताल्लुकात अच्छे थे इसलिए वो इस फिल्म में काम करने के लिए इस शर्त पर राजी हुए की भले ही सारे स्टार्स क्लाइमैक्स में मारे जाएं, लेकिन उनके किरदार की मौत नहीं होगी. ये एक ऐसा पंच था जिससे पूरी कहानी का रुख ही बदल जाता. सहगल ने सोचा बाद की बाद में देखेंगे और उन्होंने हामी भर दी और राज कुमार भी इस फिल्म में काम करने के लिए तैयार हो गए.

क्लाइमैक्स में शत्रुघ्न सिन्हा राजकुमार को गोली मारते हैं और उनकी मौत हो जाती है. जब इस सीन को फिल्माया जा रहा था तो राजकुमार ने इस पर आपत्ति जताई. निर्देशक ने ये हल निकाला की गोली लगते ही राजकुमार गिर जाएं, लेकिन राजकुमार ने इससे भी इंकार कर दिया. निर्देशक के लाख मनाने के बावजूद राज साहब नहीं माने और वो सेट छोड़ कर चले गए. बाद में सहगल ने किसी डुप्लीकेट पर ये सीन फिल्मा लिया, जिससे राजकुमार काफी नाराज हो गए और उन्होंने डबिंग से ही मना कर दिया. सहगल ने डबिंग आर्टिस्ट से डबिंग करवा कर जैसे-तैसे फिल्म रिलीज कर ही ली. ये फिल्म बड़े सितारों से सजी एक महाफ्लॉप फिल्म साबित हुई और निर्देशक नरेश सहगल की भी आख़िरी फिल्म साबित हुई .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here