विजेता पंडित : कुमार गौरव के इश्क ने ना घर का छोड़ा ना घाट का

0
272
बॉलीवुड में कामयाबी कभी-कभी इत्तेफाक से भी मिल जाती है लेकिन ये कामयाब होने वाले शख्स पर निर्भर करता है कि उसे बरकरार कैसे रखे. कुछ ऐसा ही अफ़साना है अभिनेत्री विजेता पंडित का… जो जितनी तेजी से उभरी उतनी ही तेजी से सिल्वर स्क्रीन से गायब भी हो गई.

बता दें कि विजेता पंडित ने 1981 में बनी फिल्म ‘लव स्टोरी’ से बॉलीवुड एक्टर कुमार गौरव के साथ डेब्यू किया था. फिल्म बॉक्स ऑफिस पर काफी सुपरहिट हुई थी. परदे पर रोमांस करते-करते दोनों ऑफ स्क्रीन भी कपल हो गए. विजेता ने करियर में आगे बढ़ने के बजाय कुमार गौरव के साथ घर बसाने का सपना देखने लगी, लेकिन विजेता का ये सपना कुमार गौरव के पिता राजेंद्र कुमार को रास नहीं आया और इस लव स्टोरी पर जल्द ही ब्रेक लग गया. विजेता की हालत ‘ना घर की रही और ना ही घाट की’ जैसी हो गई. मायूस होकर उन्होंने समीर मलकानी से शादी कर एक्टिंग को अलविदा कह दिया.

दिल के हाथों मजबूर होकर विजेता ने अपना घर जरूर बसा लिया लेकिन उनकी ये गृहस्थी भी कामयाब नहीं हो पाई और जल्द ही उनका तलाक हो गया. साल 1985 में उन्होंने फिल्म ‘मोहब्बत’ से दोबारा एक्टिंग में वापसी की. विजेता करीब 4 साल तक घर पर ही बैठी रही और उसके बाद जब दोबारा बॉलीवुड में आयी तो इनका सिक्का कुछ जम नहीं पाया. हालांकि उन्हें फ़िल्में मिलती रही. दूसरी पारी में उन्होंने ‘जीते हैं शान से’ ‘प्यार का तूफान’ जैसी कई फिल्मो में काम किया.

मामला ना जमते देख विजेता ने संगीतकार आदेश श्रीवास्तव से शादी कर दोबारा घर बसा लिया. लेकिन बदनसीबी ने यहां भी उनका साथ नहीं छोड़ा. साल 2015 में कैंसर के कारण विजेता के पति आदेश श्रीवास्तव की मौत हो गई. आपको जानकर हैरानी होगी कि आज के समय में विजेता आर्थिक तंगी से काफी परेशान हैं. पति आदेश श्रीवास्तव की मौत के बाद से ही वो काफी ज्‍यादा परेशान रहने लगी और फ़िलहाल पति आदेश के बकाया पैसों के लिए इधर-उधर भटक रही हैं.

विजेता के दोनों बेटे अनिवेश और अदिवेश के अलावा बड़ी बहन सुलक्षणा पंडित के पालन पोषण की जिम्मेदारी भी अकेले विजेता पर ही है. इनकी बहन मानसिक बीमारी से गुजर रही हैं और विजेता ही उनका एकमात्र सहारा है. लेकिन अफसोस तो इस बात का है कि जो एक समय में बॉलीवुड की सबसे मशहूर स्‍टार थीं जिनकी एक झलक पाने के लिए लाखों लोग तरसते थें.. आज वो पाई पाई को मोहताज हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here