जब राज कुमार ने भरी महफ़िल में की राजेश खन्ना की बेइज्जती

0
51

राज कुमार अपने दौर के ऐसे अभिनेता थे जो हर किस्म के रोल में फिट माने जाते थे.खासकर गंभीर किस्म के रोल में वो निर्माताओं की पहली पसंद हुआ करते थे .उनके मुकाबले राजेश खन्ना रोमांस के राजा थे और सुपरस्टार होने के बावजूद मेच्योर किस्म के रोल में उन्हें लेने से निर्माता झिझकते थे. 1972 में जब शक्ति सामंत ने फिल्म अमर प्रेम बनाने का ऐलान किया तो राज कुमार इस फिल्म के लिए उनकी पहली पसंद थे .लेकिन ऐलान के बावजूद जब फिल्म में राज कुमार की जगह राजेश खन्ना आ गए तो लोगों को हैरत हुई.

राजेश खन्ना, शक्ति सामंत के साथ ‘आराधना’ जैसी फिल्म में काम कर सुपरस्टार स्टार बन चुके थे. जब उन्हें सामंत की इस नई फिल्म के बारे में पता चला तो वो उनके पास जा पहुंचे और राज कुमार की जगह खुद को लेने की जिद्द करने लगे .सामंत का ख्याल था कि राजेश खन्ना इन दिनों कई फिल्मों में काम कर रहे हैं ऐसे में उनके पास डेट्स कहाँ से होगी. खन्ना ने उन्हें भरोसा दिलाया कि वो दूसरों की डेट्स उन्हें दे देंगे .शक्ति सामंत मान गए.

जब सामंत ने खन्ना के साथ इस फिल्म की शूटिंग शुरु की तो इसकी खबर राज कुमार तक भी जा पहुँची .जाहिर है उनका नाराज होना स्वाभाविक था. लेकिन राज कुमार ने तब तो कुछ नहीं कहा लेकिन जब इस फिल्म के प्रीमियर में खन्ना और राज कुमार का आमना-सामना हुआ तो राजकुमार ने अपनी तीखी जुबान का नमूना दिखा ही दिया .राज कुमार खन्ना की तरफ इशारा करते हुए कहा-हमारे फेंके हुए टुकड़े पर कुत्ता बुल्डोग बन जाता है ये तो फिल्म ही है .शायद इस फिल्म का हीरो इस फिल्म से बड़ा स्टार बन जाए .राज कुमार की बातें सही निकली .अमरप्रेम हिट फिल्म साबित हुई और इसने राजेश खन्ना के स्टारडम में और इजाफा कर दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here