जब इस एक्ट्रेस को गेटकीपर ने अपनी ही फिल्म नहीं देखने दी

0
303

बॉलीवुड में यूँ तो कई अभिनेत्रियों ने अपने बेहतरीन अभिनय से हिंदी सिनेमा में अपना एक मुकाम हासिल किया है। लेकीन नूतन के सौन्दर्य और नायाब अभिनय की बात ही अलग है। 50 से अधिक फिल्मों में अभिनय करने वाली नूतन का जन्म 4 जून 1936 को एक पढे-लिखे और सभ्रांत परिवार में हुआ था।

उन्होंने अपने फ़िल्मी जीवन की शुरुआत 1950 में की थी। उस समय वह स्कूल में ही पढ़ती थीं। उसी शरुआती दौर में नूतन ने एक एडल्ट फिल्म अभिनय किया था। बताते हैं कि उस समय में नूतन महज 14 साल की थीं। उन्हें वे स्कूल में पढ़ती थीं तभी उन्हें के एडल्ट फिल्म की डायरेक्टर नई साइन किया था। चूकि नूतन अपना करिअर फिल्मों में बनाने की सोच रही थीं इस लिए उन्होंने बिना झिझक किये ही यह फिल्म साइन कर ली।

यह फिल्म थीं नगीना। जिसे रविंद्र दवे ने डायरेक्ट किया था। इस फिल्म में नूतन के को स्टार थे नासिर खान। बता दें फिल्म के बोल्ड कंटेंट को देखते हुए फिल्म सेसंर बोर्ड ने ए सर्टिफिकेट दे दिया था। इस फिल्म को लेकर एक किस्सा यह भी मशहूर हैं कि जब नूतन अपनी इस फिल्म को देखने गई थीं तो उन्हें सिनेमा हॉल के चौकीदार ने गेट पर ही रोक दिया था। वैसे आपको बता दें कि नूतन सबसे फिल्म फेयर जितने वाली अभिनेत्री है। उन्होंने 6 बार फिल्म फेयर अवार्ड जीतें। सीमा,सुजाता,बंदिनी,मिलन,मैं तुलसी तेरे आंगन की और मेरी जंग के लिए ये वो जिसके लिए नूतन को फिल्म फेयर मिले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here