जब राजेश खन्ना ने मनोज कुमार को पीट-पीटकर किया अधमरा..!

0
388
साल 1981 की एक आधी रात.. करीब 12 बजे राजेश खन्ना के घर के फ़ोन की घंटी बजी.. राजेश खन्ना बाहर थे और डिंपल उनका इंतज़ार कर रही थी. फ़ोन डिंपल ने उठाया तो दूसरी तरफ से नशे में चूर आवाज आई, “मैं मनोज कुमार बोल रहा हूं, क्या आप अभी मुझसे मिलने होटल में आ सकती हैं..? डिंपल ने जब रीजन पूछा तो मनोज कुमार का कहना था कि वो उन्हें अपनी फिल्म की हीरोइन बनाना चाहते हैं. उन दिनों डिंपल फिल्मों में काम नहीं कर रही थी. और दूसरी बात रात के बारह बजे मिलने के लिए होटल में बुलाना उन्हें अखर गया. जैसे ही खन्ना घर पहुंचे डिंपल ने उन्हें सारी बातें बता दी.

गुस्से में आगबबूला हुए खन्ना ने अपनी सारी मित्र मंडली को जमा किया और उन्हें मनोज कुमार के घर चलने को कहा. लेकिन उनके दोस्तों ने उन्हें उस समय किसी तरह समझा-बुझाकर शांत कर दिया. लेकिन खन्ना ने ऐलान किया कि जब तक वो मनोज कुमार की पिटाई नहीं करेंगे वो शांत नहीं बैठेंगे.

एक दिन राजेश खन्ना देर रात पार्टी से लौट रहे थे, तो उन्होंने मनोज कुमार के घर के सामने गाड़ी रोक दी और उन्हें जोर-जोर से गालियां बकने लगे. आधी रात को चल रहे इस ड्रामे के कारण पूरा मोहल्ला इकट्ठा हो गया. नशे में चूर राजेश खन्ना मनोज कुमार को घर से बाहर निकलने की चुनौती दे रहे थे. शोर शराबा सुनकर धर्मेंद्र भी वहां पहुंच गए और खन्ना को समझाते हुए कहा कि इस समय वो अपने घर चलें जाएं, कल वो खुद उनके साथ मनोज कुमार के घर जाएंगे और मनोज उनके पैर पकड़कर माफी मांगेगे. धर्मेंद्र के मनाने से खन्ना गालियां बकते हुए अपने घर चले गए.

दूसरे दिन धर्मेंद्र राजेश खन्ना के साथ मनोज कुमार के घर पहुंचे. जैसे मनोज कुमार उनके सामने आये उन्होंने धर्मेंद्र के सामने ही बुरी तरह मनोज कुमार को पीटना शुरू कर दिया. इससे पहले की धर्मेंद्र एक्शन में आते खन्ना ने कई घूंसे मनोज कुमार को जड़ दिए. दर्द से कराहते मनोज कुमार को देख आखिरकार धर्मेंद्र को दया आ गई और उन्होंने खन्ना को धक्का देकर उनसे अलग किया. अपना सारा गुस्सा उतारने के बाद राजेश खन्ना वहां से चलते बने. मनोज कुमार और राजेश खन्ना के बीच ये दुश्मनी पूरी उम्र रही. खन्ना ने मनोज कुमार को कभी इसके लिए माफ़ नहीं किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here