जब माधुरी दीक्षित ने मिथुन दा को ज़ोर का झटका धीरे से दिया

0
33
माधुरी दीक्षित के बारे में कहा जाता है कि उनकी 440 वॉल्ट वाली मुस्कान के पीछे एक तेज-तर्रार दिमाग भी छुपा हुआ है जिसकी कारस्तानियों को वो अपनी मोहक मुस्कान के जरिये बखूबी छुपा लेती हैं. बॉलीवुड के अधिकांश अभिनेताओं के लिए इस मुस्कान के पीछे छिपे चेहरे को पहचानना नामुमकिन ही साबित हुआ. जिसने भी ये दावा किया वो गच्चा खा ही गया. एक बार मिथुन चक्रवर्ती भी माधुरी की मुस्कान के शिकार हो गए और माधुरी ने उनका भरपूर इस्तेमाल कर छोड़ दिया.

माधुरी के करियर को परवान चढाने के लिए माधुरी के सेक्रेटरी रिक्कू राकेश नाथ निर्माताओं से ज्यादा अभिनेताओं के चक्कर लगाया करते थे ताकि अभिनेता माधुरी को अपनी फिल्मों में लेने की जिद्द निर्माताओं से करें. मिथुन चक्रवर्ती उन दिनों बड़े स्टार थे. एक दिन बीआर स्टूडियो में रिक्कू की मुलाक़ात मिथुन दा से हो गई. उन्होंने मिथुन को माधुरी की फोटो दिखाते हुए उन्हें अपनी फिल्म की हीरोइन बनाने को कहा. मिथुन को माधुरी पसंद आई और उन्होंने माधुरी को अपनी फिल्म ‘इलाका’ और ‘प्रेम प्रतिज्ञा’ की हीरोइन बना दिया. इतना ही नहीं मिथुन अपने हर निर्माताओं से माधुरी को फिल्म में लेने की जिद्द करने लगे.

मिथुन स्टार थे और उनके पास काफी फ़िल्में थी. इस तरह मिथुन ने माधुरी को दर्जन भर फिल्मों की हीरोइन बना दिया. इसी बीच तेज़ाब हिट हो गई और माधुरी का जादू दर्शकों के सर चढ़ कर बोलने लगा. अपनी इस लोकप्रियता से अभिभूत माधुरी ने सबसे पहला काम ये किया की उन्होंने मिथुन के साथ साइन की गई फिल्मों में काम करने से इंकार कर दिया और डेट्स का बहाना बनाने लगी. दरअसल ‘तेज़ाब’ की कामयाबी के बाद माधुरी और अनिल कपूर की जोड़ी की डिमांड बढ़ गई थी, इसलिए मिथुन से पीछा छुड़ाने के लिए माधुरी ने ये पैंतरा अपनाया जिससे मिथुन दा हक्के-बक्के रह गए. इस तरह माधुरी ने करियर के लिए मिथुन का इस्तेमाल कर उन्हें दूध की मक्खी की तरह बाहर निकाल फेंका.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here