जब जीतेंद्र ने श्री देवी के कारण जयाप्रदा को फिल्म से बाहर निकलवाया

0
611

हिन्दी फिल्मों में जया प्रदा और श्री देवी दोनों की कामयाबी में अभिनेता जीतेंद्र का बड़ा योगदान है. श्रीदेवी ने तो कामयाबी का स्वाद ही जीतेंद्र की फिल्म ‘हिम्मतवाला’ के कारण चखा जबकि जयाप्रदा फिल्म ‘सरगम’ की कामयाबी के बाद अपनी पहचान बना चुकी थी .बाद में ऐसा ट्रेंड ही बन गया की जीतेंद्र के साथ श्रीदेवी और जयाप्रदा दोनों हीरोइनों का एक फिल्म में रहना कामयाबी की गारंटी मान ली गयी .1983 में जब जीतेंद्र के सामने श्रीदेवी और जयाप्रदा में से किसी एक को चुनने की नौबत आई तो उन्होंने जयाप्रदा को फिल्म से निकलवा कर साबित कर दिया की उनकी पहली पसंद श्रीदेवी ही हैं.

1983 में जीतेंद्र,श्रीदेवी और जयाप्रदा को लेकर तेलगू और हिंदी में फिल्म ‘जानी दोस्त’ का निर्माण शुरू हुआ .ये फिल्म तेलगू में ‘अदावी सिम्हालू’ नाम से पहले बनी और हिट साबित हुई .बाद में रमेश सिप्पी जो इस फिल्म के मुंबई डिस्ट्रीब्यूटर थे की सलाह पर फिल्म में कुछ फेरबदल का निर्णय लिया गया ताकि ये फिल्म तेलगू से थोड़ी अलग दिखे. ये फैसला किया गया की श्रीदेवी और जया प्रदा में से किसी एक को ड्राप कर उनकी जगह नयी हीरोइन ली जाए. लेकिन किसे ड्राप किया जाए इसका फैसला करना मुश्किल हो रहा था. सिप्पी चाहते थे की श्रीदेवी को इस फिल्म से ड्राप किया जाए क्योंकि श्रीदेवी को एक तो हिन्दी नहीं आती थी दूसरा जयाप्रदा का ट्रैक रिकॉर्ड उनसे बेहतर था .जबकि जीतेंद्र ऐसा बिलकुल नहीं चाहते थे. उन्होंने श्रीदेवी के नाम पर वीटो लगा दिया दिया जिसकी वजह से सिप्पी भी मजबूर हो गए .

आखिरकार जयाप्रदा को इस फिल्म से चलता कर उनकी जगह रेखा को ले लिया गया लेकिन जल्द ही रेखा की जगह परवीन बॉबी ने ले ली. जिस जयाप्रदा को जीतेंद्र ने श्रीदेवी के कारण फिल्म से निकलवाया बाद में जीतेंद्र को जयाप्रदा ने ही सहारा दिया क्योंकि कामयाबी मिलते ही श्रीदेवी ने जीतेंद्र के साथ काम करना बंद कर दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here