संजय खान पर हुआ हमला तो अकेले ही गुंडों से भिड गए फिरोज खान

0
13
दर्शकों में से काफी लोगों ने यश चोपड़ा की फिल्म ‘दीवार’ जरूर देखी होगी. इस फिल्म में अमिताभ बच्चन खूंखार विलेन के साथ खुद को एक बड़े कमरे में बंद कर लेते हैं और उनकी जबरदस्त धुनाई करते हैं. ये तो एक फ़िल्मी सीन था, लेकिन फिरोज खान इस सीन को निजी जिंदगी में फिल्म आने से काफी पहले ही आजमा चुके थे. जब उन्होंने बिलकुल इसी अंदाज़ में अकेले मुंबई के एक मशहूर गुंडे की इसलिए पिटाई की थी क्योंकि उसने उनके छोटे भाई संजय खान पर चाकू से वार किया था.

ये फ़िरोज़ और संजय खान के स्ट्रगल का दौर था. दोनों भाई कोलाबा के गंगा विहार इलाके में रहते थे. फ़िरोज़ को फिल्मों में काम मिलना शुरू हो गया था, जबकि संजय खान अपने लिए काम की तलाश में थे. फिरोज के भाई होने कारण संजय का फ़िल्मी हस्तियों से मिलना-जुलना होता रहता था. एक दिन संजय खान अभिनेत्री नर्गिस के साथ कहीं जा रहे थे तभी मोहल्ले के एक दादा टाइप शख्स ने नर्गिस पर भद्दे कमेंट शुरू कर दिया. जब संजय खान ने इसका विरोध किया तो उस गुंडे ने संजय खान पर चाकू से हमला कर दिया. संजय खान के सर में चाकू का गहरा घाव लगा और उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा. फ़िरोज़ खान जब संजय को देखने अस्पताल पहुंचे तो भाई को इस हालत में देख बुरी तरह रोने लगे. उन्होंने संजय का इलाज कर कुछ दिनों के लिए अपने नेटिव प्लेस भेज दिया और इधर उस गुंडे की तलाश में जुट गए.

आखिरकार उन्हें उसका पता मिल ही गया. उन्होंने पुलिस को इसकी खबर कर दी और पुलिस के आने से पहले उस गैराज में पहुंच गए जहाँ वो गुंडा छिपा हुआ था. जैसे ही फ़िरोज़ गैराज में पहुंचे वो उनसे माफी मांगने लगा. लेकिन गुस्से में आगबबूला हो रहे फ़िरोज़ ने उन्हें गैराज में अंदर से बंद कर उसकी जबरदस्त धुनाई कर डाली. जब वहां पुलिस पहुंची तो उन्होंने देखा की फिरोज उस लहुलुहान शख्स को घसीटते हुए बाहर ला रहे हैं. पुलिस उसे गिरफ्तार कर चलती बनी. फिरोज खान केवल परदे पर नहीं बल्कि निजी जीवन में भी एक शेरदिल हीरो ही थे जो इंडस्ट्री के बड़े-बड़े सूरमाओं से पंजा लड़ा चुके थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here