जब खुद को फिल्म से निकालने के लिए यश चोपड़ा के सामने गिड़गिड़ाने लगे अनिल कपूर

0
208
Indian director Yash Chopra (L) and Indian actor Anil Kapoor attend the Global Indian Music Awards (GIMA) ceremony in Mumbai on November 10, 2010. AFP PHOTO/STR (Photo credit should read STRDEL/AFP/Getty Images)
अनिल कपूर बड़े प्रोडक्शन और अच्छे निर्देशकों के साथ काम करने के लिए हमेशा लालायित रहते थे और कई बार इस लोभ के कारण ऐसी फ़िल्में भी साइन कर लेते थे जिनका उन्हें बाद में पछतावा होता था. ऐसी ही एक फिल्म थी ‘परंपरा’ जो यश चोपड़ा के नाम के कारण उन्होंने बिना रोल सुने साइन कर ली, लेकिन जैसे ही फिल्म की शूटिंग शुरू हुई वो सेट से भाग खड़े हुए.

साल 1993 में यश चोपड़ा ने सुनील दत्त,आमिर खान और सैफ खान जैसे अभिनेताओं को लेकर फिल्म ‘परंपरा’ के निर्माण का ऐलान किया. जैसे ही इस फिल्म की घोषणा हुई अनिल कपूर चोपड़ा के पीछे पड़ गए ताकि वो भी इस फिल्म का हिस्सा बन सकें. उन्होंने चोपड़ा को इतना परेशान कर दिया कि उन्हें अनिल कपूर को फिल्म में साइन करना ही पड़ा. अनिल कपूर इतने उत्साहित और खुश थे कि ना तो उन्होंने रोल के बारे में पूछा और ना ही पेमेंट के बारे में. वो तो बस इसी बात से खुश थे कि उन्हें यश चोपड़ा जैसे बड़े निर्देशक के साथ काम करने का मौक़ा मिल रहा है.

तय समय पर फिल्म की शूटिंग शुरू हो गई. अनिल कपूर को जब उनका रोल सुनाया गया तो वो बुरी तरह हडबडा गए. ये रोल आमिर खान और सैफ के पिता का था. भला अनिल अपने हमउम्र कलाकारों के पिता का रोल क्यों करते..? वो बिना चोपड़ा साहब को बताए सेट से भाग गए. अनिल कपूर की इस हरकत से यश चोपड़ा काफी नाराज हो गए और उन्होंने अनिल कपूर को सेट पर पहुंचने का अल्टीमेटम दे दिया. जो अनिल कल तक फिल्म साइन करने के लिए चोपड़ा की खुशामद कर रहे थे वो अब इस बात के लिए गिड़गिड़ाने लगे कि उन्हें फिल्म से बाहर निकाल दिया जाए. आखिरकार चोपड़ा ने उन्हें आजाद करते हुए उनकी जगह विनोद खन्ना को साइन कर लिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here