जब नाराज फिरोज खान ने नसीरुद्दीन शाह एक्टिंग सीखने की सलाह दे डाली

0
278
नसीरुद्दीन शाह हिन्दी सिनेमा के बेहतरीन एक्टर्स में से एक हैं. ऐसे में अगर कोई एक्टिंग सीखने की सलाह दे डाले तो क्या कहना. लेकिन फिरोज खान ऐसा कर सकते थे. फिरोज खान ने साल 1998 में नसीर को फिल्म ‘प्रेम अगन’ में बेटे फरदीन के पिता का रोल ऑफर किया था, लेकिन नसीर ने इसे ठुकरा दिया. जाहिर है फिरोज खान इसे हलके में नहीं ले सकते थे.

‘प्रेम अगन’ फिरोज खान के बेटे फरदीन खान की डेब्यू फिल्म थी. इसलिए उन्होंने फिल्म के निर्माण में अपना सारा जोर लगा दिया. चूंकि फिल्म के लीड पेयर नए थे, इसलिए फिरोज चाहते थे कि फिल्म के करेक्टर रोल में मशहूर कलाकार भर दिए जाएं जिससे फिल्म को सेलेबल बनाया जा सके. फिरोज खान ने फरदीन खान के पिता के रोल के लिए नसीरुद्दीन शाह को अप्रोच किया, लेकिन नसीर ने रोल को कमजोर बताते हुए फिल्म में काम करने से इंकार कर दिया.

फिरोज खान की ये आदत थी कि अगर कोई बात उन्हें चुभ जाती, तो वो इसे आसानी से हजम नहीं कर पाते थे. जब नसीर ने उनका ऑफर ठुकरा दिया तो वो काफी नाराज हो गए. खान नसीर से मिलने सीधे उनके घर जा धमके. फिरोज ने जब नसीर से इस रोल को ठुकराने की वजह पूछी तो नसीर का कहना था कि बतौर कलाकार और फिल्ममेकर वो फिरोज खान की काफी इज्जत करते हैं. लेकिन इस रोल में उनके लायक कुछ ख़ास नहीं है. फिरोज खान ने नसीर से पूछा -आपने एक्टिंग कहां से सीखी ? नसीर ने पुणे इंस्टिट्यूट का नाम लिया. इस पर कटाक्ष करते हुए फिरोज ने कहा की ऐसा लगता है आपको इंस्टीटयूट में ये नहीं सिखाया गया की कलाकार बड़ा होता रोल नहीं. एक एक्टर अपने अभिनय से किसी भी रोल को महत्वपूर्ण बना सकता है. फिरोज खान की इस नसीहत को सुन नसीर मन मसोस कर रह गए. बाद में इस रोल में राज बब्बर को साइन कर लिया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here