Rajesh Khanna (Part-24) : जब 17 साल बाद अंजू महेंद्रू की आगोश में वापस लौटे राजेश खन्ना

0
63
साल 1980 का दशक आते-आते फिल्म इंडस्ट्री का मिजाज पूरी तरह बदल चुका था. हालांकि रोमांस अब भी हावी था लेकिन इसके लिए कुमार गौरव और आमिर खान जैसे चौकलेटी हीरो मैदान में उतर चुके थे. भला राजेश खन्ना जैसे उम्रदराज हीरो को परदे पर रोमांस करते हुए देखने में किसकी रूचि होती. नतीजा ये हुआ कि खन्ना की फ़िल्में थोक के भाव में फ्लॉप होने लगी. डिंपल और टीना मुनीम भी जिंदगी से जा ही चुकी थी. खन्ना एक बार फिर अकेले हो गए और दिल का सुकून तलाश करने लगे. ऐसे में उन्हें फिर याद आया अपना पहला प्यार यानी अंजू महेंद्रू…

17 सालों बाद एक रात अंजू महेंद्रू के घर का फोन घनाघनाया. दूसरी तरफ से आवाज आई-“राजेश खन्ना बोल रहा हूं. क्या कुछ समय के लिए मेरे घर आ सकती हो ? अरसे बाद इस आवाज को सुन अंजू महेंद्रू अपने कदम रोक नहीं पाई और खन्ना के बंगले पर पहुंच गई. अंजू को सामने खड़े देख खन्ना बेहद भावुक हो गए और अंजू की गोद में सर रखकर बुरी तरह रोने लगे. दिल की दूरियां और गले-शिकवे इन आंसुओं की बाढ़ में बह गए और अंजू ने खन्ना की डगमगाती नैया को फिर से थाम लिया.

खन्ना की बिखर चुकी जिंदगी को अंजू ने फिर से सहेजना शुरू किया. अंजू की सोहबत में खन्ना भी अपने गम को कम करने की कोशिशों में जुट गए. करियर डांवाडोल हो रहा था. खन्ना की समस्या ये थी कि वो अपनी इमेज से बाहर निकलने को तैयार ही नहीं थे. समय और उम्र के तकाजे को देखते हुए उन्हें अपने आपको ढालना था. मल्टीस्टार फ़िल्में करने से उन्हें सख्त परहेज था. एक्शन फिल्मों के लिए वो फिट नहीं थे और रोमांस की उम्र गुजर चुकी थी.  उन दिनों या तो रोमांटिक फ़िल्में बन रही थी या फिर मल्टीस्टारर. इसी बीच खन्ना ने एक ऐसा काम किया कि वो फिर से सुर्ख़ियों में आ गए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here