जब शबाना आज़मी को कास्ट ना करने पर विनोद खन्ना ने मनमोहन देसाई को दी धमकी

0
255

कमर्शियल फिल्मों में शबाना आज़मी एक सरप्राइज पॅकेज की तरह थी लेकिन ये भी सच है कि उन्हें ऐसी फ़िल्में ज्यादातर अभिनेताओं की सिफारिश पर ही मिलती थी .मसलन शशि कपूर अक्सर शबाना को अपनी फिल्मों के लिए रिकमेंड करते थे. विनोद खन्ना के लिए तो शबाना आज़मी का क्रेज ऐसा था कि जब मनमोहन मोहन देसाई ने उनके कहने पर शबाना को फिल्म ‘अमर अकबर अन्थोनी’ में कास्ट करने से मना किया तो विनोद खन्ना ने फिल्म छोड़ने तक की धमकी दे डाली.

1977 में मनमोहन देसाई ने जब फिल्म ‘अमर अकबर अन्थोनी बनाने का ऐलान किया तो फिल्म में अमिताभ बच्चन और ऋषि कपूर के साथ परवीन बॉबी और नीतू सिंह को साइन किया गया. विनोद खन्ना इस फिल्म में अमर नामक एक गंभीर किस्म के पुलिस इन्स्पेक्टर का किरदार निभा रहे थे .इसलिए उन्होंने विनोद खन्ना के अपोजिट कोई हीरोइन नहीं रखने का फैसला किया .लेकिन ये बात विनोद खन्ना मानने को तैयार नहीं हुए .उन्होंने जिद्द पकड़ ली कि अगर बच्चन और ऋषि के अपोजिट हीरोइन है तो उनके अपोजिट भी होनी चाहिए ,विनोद खन्ना की जिद पर रीना राय को फिल्म में लेने का ऐलान कर दिया गया .लेकिन विनोद खन्ना ने शबाना आजमी के नाम की सिफारिश कर दी .

शबाना की इमेज इस फिल्म के मिजाज को शूट करेगी ये बात मनमोहन देसाई मानने को तैयार ही नहीं थे. नतीजा ये रहा कि दोनों अपनी-अपनी जिद्द पर अड़ गए .नाराज विनोद खन्ना ने फिल्म छोड़ने का ऐलान कर दिया .तब मनमोहन देसाई की पत्नी ने बीचबचाव करते हुए विनोद खन्ना की जिद्द मान ली और शबाना को फिल्म में कास्ट करवा दिया .इस तरह शबाना आज़मी इस कल्ट फिल्म का हिस्सा बन गई .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here