TOP 5 Biggest Fights of Feroz Khan:Raj Kumar से लेकर Vinod Khanna के गिरेबान तक 5 कारनामे

0
258

बॉलीवुड असली पठान फिरोज खान साहब को काफी गर्ममिजाज एक्टर माना जाता था. खासकर जब वो एक-आध पैग ले लिया करते तो दोस्तों और दुश्मनों का फर्क भूल जाया करते थे .जब एक बार उन्हें गुस्सा आ गया तो उन्हें काबू में रखना मुश्किल हो जाता था. आइये खान साहब से जुड़े 5 बड़े विवादों की बात करते हैं और आपको बताते हैं कि कब-कब फिरोज अपने गुस्से के कारण सुर्ख़ियों में आ गए ..

बात उन दिनों की है जब फ़िरोज़ खान फिल्म ‘जाबांज’ का निर्माण कर रहे थे .इस फिल्म में पहले फ़िरोज़ खान ने राम तेरी गंगा मैली में सेकेण्ड लीड के जरिये फेमस हुई अभिनेत्री दिव्या राणा को साइन किया . फिरोज के छोटे भाई अकबर खान जो इस फिल्म के प्रोडक्शन इंचार्ज थे ने दिव्या में कुछ ज्यादा ही इंटरेस्ट लेना शुरू कर दिया .एक दिन अकबर खान ने दिव्या राणा को अकेले ऑफिस में आकर मिलने को कहा .दिव्या राणा ने इसकी शिकायत फ़िरोज़ खान से करते हुए फिल्म में काम करने से मना कर दिया .जब फ़िरोज़ खान को अपने छोटे भाई की इस करतूत के बारे में पता चला तो वो बुरी तरह नाराज हो गए और ऑफिस में सबके सामने अकबर कई थप्पड़ रसीद कर दिए .फ़िरोज़ खान का गुस्सा यहीं ठंडा नहीं हुआ बल्कि उन्होंने अकबर फिल्म के काम-काज से भी दूर रहने को कह दिया .फ़िरोज़ खान की इसी शरीफाना तबियत के कारण उनके साथ काम कर चुकी अभिनेत्रियाँ उन्हें काफी सम्मान देती थी.
फिल्म ‘ऊंचे लोग’ की शूटिंग के दौरान अभिनेता राज कुमार और फिरोज खान का झगडा भी काफी सुर्ख़ियों में रहा .उस समय फ़िरोज़ खान इंडस्ट्री में नए थे. . फिल्म के एक सीन में राज कुमार फ़िरोज़ खान को घूरते एक डायलौग बोलना था और फ़िरोज़ खान को अगली लाइन का क्यों देना था. लेकिन राज कुमार फ़िरोज़ खान को देखने को ही तैयार नहीं थे. राज कुमार कैमरे की तरफ देखते हुए अपना डायलॉग बोल देते और क्यू ना मिलने के कारण फ़िरोज़ खान खड़े रह जाते .जब ऐसा काफी देर चलता रहा तो निर्देशक राज कुमार की बजाय फ़िरोज़ खान पर ही चीखने लगे .अब राज कुमार ने फ़िरोज़ खान को एक्टिंग का पाठ पढ़ाना शुरू कर दिया. पहले से ही बिफरे फ़िरोज़ खान को राज कुमार का ये रवैया काफी नागवार गुजरा और उन्होंने राज कुमार को चेतावनी देते हुए कहा कि बेहतर होगा आप अपना काम करें और हमें अपना काम करने दें. फ़िरोज़ खान की इस बेअदबी से राज कुमार बुरी तरह उखड़ गए और फ़िरोज़ खान को सेट से बाहर करने की मांग करने लगे. निर्देशक ने जैसे-तैसे मामले को सम्भाला और शूट पूरा किया .

==================
1986 में निर्माता पी एस वीरप्पा ने दिलीप कुमार,मनोज कुमार और वहीदा रहमान को लेकर फिल्म ‘आदमी’ बनाने का ऐलान किया .ये फिल्म साउथ की एक हिट फिल्म की रीमेक थी जो फ़िरोज़ खान को काफी पसंद थी .जैसे ही इस फिल्म का ऐलान हुआ फ़िरोज़ खान ने इस फिल्म के लिए लॉबिंग शुरू कर दी .उन्होंने वीरप्पा और निर्देशक भीम सिंह को इसके लिए मना लिया कि वो मनोज कुमार को फिल्म से निकाल कर उन्हें कास्ट कर लें. जैसे ही ये बात दिलीप कुमार को पता चली वो नाराज हो गए .फ़िरोज़ खान ने जिस तरह लॉबिंग की दिलीप साहब उससे काफी खफा थे. उन्होंने वीरप्पा को साफ़ अल्टीमेटम दे दिया कि अगर मनोज इस फिल्म में नहीं होंगे तो वो भी इस फिल्म में काम नहीं करेंगे .वीरप्पा को दिलीप साहब की बात माननी पड़ी और इस तरफ फ़िरोज़ खां का पत्ता साफ़ हो गया . इस बात को लेकर दिलीप कुमार और फिरोज खान के बीच काफी दिनों तक कोल्ड वॉर चलता रहा.

===========================
मौके-बेमौके पार्टी देने वाले फिरोज खान ने 1975 में एक शानदार पार्टी का आयोजन किया और इंडस्ट्री के लगभग हर छोटे-बड़े कलाकारों को इस पार्टी में इनवाईट किया .पार्टी में विनोद खन्ना भी अपनी पत्नी गीतांजली के साथ मौजूद थे .पार्टी जब सुरूर पर आई तो वहां मौजूद हर मेहमान जो मिला उसी के साथ डांस करने लगे .फ़िरोज़ खान भी पूरे सुरूर में थे .अचानक उन्होंने विनोद खन्ना की पत्नी गीतांजली को पकड़ लिया और उनके साथ डांस करने लगे .डांस तक तो ठीक लेकिन जब ये डांस अपनी हद पार करने लगा तो विनोद खन्ना का माथा ठनका .जब मामला हद से बाहर जाने लगा तो विनोद खन्ना को गुस्सा आ गया और उन्होंने खान को धक्का देते हुए गीतांजलि को उनकी गिरफ्त से छुड़ाया.फ़िरोज़ खान नशे में तो थे ही धक्का देने के कारण गुस्से में आ गए और वो विनोद खन्ना को गालियाँ देने लगे .मामला इतना बढ़ गया कि खन्ना आगे बढ़कर फ़िरोज़ खान का गिरेबान पकड़ने की कोशिश करने लगे .तभी फ़िरोज़ खान के छोटे भाई संजय खान बीच में आ गए और उन्होंने मामले को संभाला .

=============================
फिरोज खान ने कुर्बानी की कामयाबी के बाद एक जबरदस्त पार्टी रखी थी जिसमें शक्ति कपूर भी मौजूद थे .शक्ति की ये पहली सफलता थी इसलिए वो जाम पर जाम पिए जा रहे थे .जब मामला कुछ ज्यादा हो गया तो वो सीधे फिरोज खान के पास पहुंचे और पूछा ‘दिल्लू’ कहाँ है ? मुझे दिल्लू से अभी मिलना है. दिल्लू फिरोज खान की बहन दिलशान खान का पेट नेम है .फिरोज खान ने शक्ति से पूछा क्या तुम कभी दिलशाद से मिले हो या उसे जानते हो ? शक्ति ने इसका जवाब ना में दिया .गुस्से से आगबबूला हुए फिरोज खान ने शक्ति को बुरी तरह पीटना शुरू कर दिया .अधमरे हुए शक्ति को वेटरों ने वहां से निकाल कर उनके घर पहुंचाया .बाद में फिरोज खान ने शक्ति को बुलाकर मीडिया से इंट्रोड्यूस करवाया और इस तरह दोनों के सम्बन्ध फिर से नॉर्मल हो गए .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here