नागार्जुन की तलाकशुदा है तब्बू !

0
614

तबस्सुम फातिमा हाशमी उर्फ़ तब्बू को लाइमलाइट में आने का चस्का तब लगा जब उनकी बड़ी बहन फराह अचानक स्टार हो गयी. तब्बू फराह के साथ शूटिंग देखने अक्सर जाया करती थी. यहीं से उनके अंदर हीरोइन बनने की तमन्ना जगी.देव आनद ने उनकी इस तमन्ना को फिल्म ‘हम नौजवान’ के जरिए पूरा भी कर दिया. शेखर कपूर ने फिल्म ‘दुश्मनी’ का ऑफर दे कर तब्बू को बॉलीवुड में लांच किया. यही फिल्म बाद में ‘प्रेम’ नाम से सतीश कौशिक के निर्देशन में बनी. इस फिल्म के दौरान तब्बू अपने को-स्टार संजय कपूर के प्रेम में पड़ गयी. लेकिन रवीना टंडन इस प्रेम के बीच में आ गई और रिश्ता टूट गया. संजय कपूर से रिश्ते टूटने का तब्बू की ज़िंदगी पर गहरा असर पड़ा और प्रेम में धोखा खाना उनकी नियति बन गई.

संजय कपूर के बाद तब्बू निर्माता साजिद नाडियाडवाला के संपर्क में आयी. तब्बू साजिद की पत्नी दिव्या भारती की गहरी दोस्त थी. दिव्या से मिलने वो अक्सर साजिद के घर जाया करती थी. इसी बीच दिव्या की मौत की खबर आई. दिव्या की मौत से टूटे साजिद को तब्बू के कंधे का सहारा मिला. तब्बू की इस सहानुभूति के कारण साजिद तब्बू से प्यार कर बैठे. लेकिन दोनों ने इस मुहब्बत को छुपा कर रखा. जैसे ही दिव्या भारती के चिता की आग ठंडी हुई दोनों ने अपने प्यार का एलान कर दिया. ऐसा कहा जाता है कि साजिद नाडियाडवाला और तब्बू के रिश्तों से खुद दिव्या भी वाकिफ थी लेकिन उन्होंने इसे कभी गंभीरता से नहीं लिया. सूत्रों के मुताबिक़ साजिद ने तब्बू के सामने दूसरी बीबी बनने का भी प्रस्ताव रखा था जो तब्बू को मंजूर नहीं था. दिव्या भारती की मौत के बाद साजिद का रास्ता साफ़ हो चुका था.साजिद नाडियाडवाला और तब्बू के रिश्तों में मोड़ तब आया जब तब्बू साउथ स्टार नागार्जुन के संपर्क में आई. तब्बू और नागार्जुन की बढ़ती नजदीकियों से साजिद परेशान थे लेकिन वो तब्बू से कोई कमिटमेंट करने को तैयार भी नहीं थे. आखिरकार दोनों का रिश्ता टूट गया और तब्बू नागार्जुन के प्यार में डूब गयी. ये जानते हुए भी कि नागार्जुन शादीशुदा हैं तब्बू उन्हें बेहद चाहती थी. ये रिश्ता बगैर किसी मंज़िल के दस सालों तक आगे बढ़ता रहा.

नागार्जुन ने हैदराबाद में तब्बू के रहने के लिए घर खरीदा जहां दोनों अघोषित रूप से पति-पत्नी की तरह रहते थे. नागार्जुन की पत्नी अमला को भी इस रिश्ते के बारे में पता था. नागार्जुन के बेटे नागा चैतन्य जब भी मुंबई आते तब्बू के घर पर ही ठहरते. यानि पूरा परिवार तब्बू को पारिवारिक सदस्य के तौर पर स्वीकार करने को तैयार था. लेकिन शायद तब्बू को उम्मीद रही होगी कि नागार्जुन अपनी पत्नी अमला से तलाक लेकर उनसे शादी करेंगे लेकिन ऐसा हुआ नहीं. घोषित रूप से तब्बू-नागार्जुन का रिश्ता टूट चुका है लेकिन खुद तब्बू एक्सेप्ट करती हैं कि नागार्जुन को भुला पाना उनके वश में नहीं है. 47 साल की तब्बू आज भी नागार्जुन की यादों के साये में दिन गुजार रही हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here