जब Rishi Kapoor को पीटने घर में घुसे Sanjay Dutt को Sunil Dutt ने जूतों से पीटा

0
158

परदे पर नायक बन कर लोगों का दिल जीतने वाले संजय दत्त निजी जीवन में किसी खलनायक से कम नहीं थे .उनके कई हंगामे इस बात के गवाह रहे हैं कि संजू बाबा ने बिना अंजाम की परवाह किये कई ऐसी हरकतें की जिसका खामियाजा आगे चलकर उन्हें भुगतना पडा .खैर..tit 4 tat सीरिज की इस कड़ी में आज बात करते हैं कि ऋषि कपूर को पीटने उनके घर में घुसे संजय दत्त की उनके पिता सुनील दत्त ने क्यों की थी जूतों से पिटाई .तो आइये जानते हैं..

टीना मुनीम अब टीना अम्बानी संजय दत्त की ज़िन्दगी में आने वाली पहली माशुका थी जिन्हें वो दीवानगी की हद तक चाहते थे .लेकिन संजय दत्त की ड्रग्स लेने की आदतों के कारण टीना जल्द ही उनसे पीछा छुड़ाने लगी .उन दिनों टीना और ऋषि कपूर की फ़िल्मी जोड़ी काफी तेजी से लोकप्रिय हो रही थी इसलिए मीडिया में दोनों के रोमांस की ख़बरें भी आने लगी थी. ‘जब ये अफवाहें संजय तक पहुंची तो वो काफी नाराज हो गए और उन्होंने ऋषि कपूर को सबक सिखाने की ठानी.एक दिन नशे में धुत्त संजय ऋषि कपूर को ढूंढते -ढूंढते पाली हिल स्थित नीतू सिंह के अपार्टमेंट में घुस गए .वो ऋषि कपूर कपूर बुरी तरह गालियाँ बक रहे थे .ऋषि तो उन्हें नहीं मिले लेकिन उन्होंने अपना गुस्सा वहां मौजूद नीतू सिंह पर उतारना शुरू कर दिया .बाद में नीतू सिंह ने उनें समझाया की टीना के साथ ऋषि के रोमास की खबर केवल अफवाह है और वो दोनों जल्द ही शादी करने वाले हैं. इस तरह ऋषि कपूर संजय दत्त के गुस्से से बाल-बाल बच गए .
बॉलीवुड में कई अभिनेताओं से पंगा ले चुके संजय दत्त की हरकतों से उनके पिता सुनील दत्त काफी तनाव में रहते थे.एक बार सुनील दत्त अपने बेटे की गन्दी आदतों से इतने नाराज हो गए कि उन्होंने बाबा को जूते से खूब पीटा.
सुनील दत्त खुद भी चेन स्मोकर थे लेकिन वो ये नहीं चाहते थे की संजय को इसकी लत लगे. संजय पिता की सिगरेटें चुरा-चुरा कर पीते थे .हालाँकि शुरुआत में सुनील दत्त ने उन्हें समझाने की कोशिश की लेकिन तब तक संजय सिगरेट के आदि हो चुके थे .संजय दत्त अक्सर पिता से छिपकर बाथरूम में सिगरेट पीते थे .एक दिन जब वो बाथरूम में सिगरेट का कश लगा रहे थे तभी अचानक सुनील दत्त वहां आ गए.संजय दत्त को सिगरेट पीता देख वो बेहद नाराज हुए थे और उन्होंने जूतों से उनकी पिटाई कर डाली .हालाँकि अपने इकलौते बेटे को बुरी तरह पीटने के बाद सुनील दत्त खूब रोए भी .लेकिन इस वाकये से संजय ने कुछ नहीं सीखा. संजय दत्त को 80 और 90 के दशक में ड्रग्स लेने की आदत पड़ गई. चूँकि वो खुद सेल्फ एस्टब्लिश थे पैसा कमाते इस वजह से उनके पिता भी ज्यादा कुछ नहीं बोल पाते थे. सुनील दत्त ने संजू को काफी समझाया पर वो नहीं समझे और अंडरवर्ल्ड से अपनी नजदीकियां बड़ा ली. परिणाम ऐसा हुआ कि साल 1993 के मुंबई बम ब्लास्ट में संजू के कई अंडरवर्ल्ड दोस्तों का नाम आया. जिससे वो भी इस मामले में फंस गए और उन्हें पांच साल तक जेल की हवा भी खानी पड़ीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here