अपनी डेट्स देने खुद चलकर हृषिकेश मुखर्जी के घर पहुंच जाते थे राजेश खन्ना

0
15
अपने स्टारडम के दौर में राजेश खन्ना निर्माताओं को डेट्स के लिए काफी परेशान किया करते थे.  या फिर डेट्स देकर सेट पर ना पहुंचना उनकी आदतों में शुमार था. लेकिन हृषिकेश मुखर्जी उन खुशनसीब निर्देशकों में से थे जिनके पास खुद खन्ना चलकर डेट्स देने जाते थे. खन्ना की इस आदत से मुखर्जी इतने परेशान हो गए थे कि वो खन्ना को देखते ही यह कहकर भाग खड़े होते थे कि- “भागो पिंटू डेट्स देने आ रहा है”.

किस्सा फिल्म ‘आनंद’ की शूटिंग के दौरान का है. राजेश खन्ना को इसमें अपनी पंजाबी आनंद सहाय की भूमिका इतनी पसंद थी कि वह चाहते थे कि हृषिदा जल्दी से यह फिल्म बना लें. सीमित संसाधनों के कारण शूटिंग शुरू होने में समय लग रहा था और खन्ना बार-बार हृषिकेश मुखर्जी के यहां आ धमकते थे, शूटिंग की डेट देने के लिए. इससे हृषिदा काफी परेशान थे और जब भी उन्हें खन्ना के आने का पता चलता, वह अपनी टीम के लोगों से कहते, ‘भागो पिंटू बाबा डेट देने आ रहा है.’

मुखर्जी ने खन्ना को कई बार समझाने की कोशिश की कि निर्माता आर्थिक परेशानी में है इसलिए फिल्म को पूरा करने में समय लग रहा है. तब राजेश खन्ना ने फिल्म में पैसा लगाने की भी पेशकश की लेकिन मुखर्जी ने इसे नहीं माना. खन्ना ने ये कहकर निर्माता की परेशानी दूर कर दी कि वो अपना बकाया निर्माता को माफ़ कर रहे हैं. वो इन पैसों से फिल्म पूरी कर लें. और हुआ भी ऐसा ही.. फिल्म जल्दी पूरी हो कर रिलीज हो गई. इस फिल्म ने खन्ना के स्टारडम में चार चांद लगा दिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here