कमल सदाना : कहां गुम हो गए काजोल के पहले हीरो..!

0
144
बॉलीवुड की चकाचौंध आपको आकर्षित करती है, लेकिन इसके पीछे का घुप्प अंधेरा किसी को दिखाई नहीं देता है. इसी गुमनामी के अंधेरे ने सैकड़ों लोगों को निगल लिया है. जो कभी हैंडसम हंक लगा करते थे वह आज वह बेबसी की जिंदगी बिताने को मजबूर हैं. कमल सदाना के साथ बॉलीवुड की टॉप एक्ट्रेस काजोल ने अपने करियर की शुरुआत की थी. काजोल तो बुलंदियों पर पहुंच गईं लेकिन कमल की जिंदगी, खुद एक फिल्म बनकर रह गई.

कमल के पिता ने, उनके जन्मदिन वाली रात ही मां सईदा खान और बहन नम्रता की गोली मारकर हत्या कर दी और इसके बाद आत्महत्या कर ली. पलभर में पूरा परिवार खत्म हो गया, ऐसे में कमल को खुद को संभाल पाना आसान नहीं था. कमल के पिता ब्रिज सदाना एक जाने माने निर्माता थे, लेकिन फिल्मों में हुए घाटे ने उन्हें पूरे परिवार सहित खुद को ख़त्म करने के लिए मजबूर कर दिया.

काजोल के साथ फिल्म ‘बेखुदी’ करने के बाद कमल ने बाली उमर को ‘सलाम’, ‘रॉक डांसर’, ‘विक्टोरिया नंबर 203’ और ‘मोहब्बत और जंग’ में काम किया, लेकिन बॉलीवुड में कोई भी फिल्म करिश्मा दिखाने में कामयाब नहीं रही. फिल्मों में मिली असफलताएं और पारिवारिक सदमे के बावजूद कमल नहीं टूटे, उन्होंने अपनी कोशिश जारी रखी और छोटे पर्दे पर अपनी जगह बनाई. साल 2006 में ‘कसम से’ सीरियल में उनको पहचान मिलनी शुरू हो गई. इसके बाद उन्होंने कई सिरियल्स में काम किया, 2014 में आई फिल्म टाइगर्स ऑफ सुंदरबन में कमल ने निर्देशन का काम संभाला. अब वो अपने परिवार के संग समय बिता रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here