जानिए !कैसे संजीव कुमार की शराब की लत ने करवाया राखी और गुलज़ार का तलाक

0
1327

दोस्तों ! शराब और बॉलीवुड के नवाब सीरिज में हम बात करते हैं बॉलीवुड सितारों के उन कारनामों की जो उन्होंने शराब पी कर की. शराब ना केवल पीने वाले को बर्बाद करती है बल्कि कभी-कभी इसकी चपेट में वो लोग भी आ जाते हैं जो शराबियों के साथ होते हैं. कम से कम राखी और गुलज़ार के मामले में तो ऐसा ही हुआ .शराब संजीव कुमार ने पी लेकिन घर उजड़ गया राखी और गुलज़ार का .कैसे ? आइये जानते हैं .

गुलज़ार उन दिनों कश्मीर में फिल्म ‘आंधी’ की शूटिंग कर रहे थे। राखी उनसे मिलने कश्मीर पहुँच गयी। राखी के सेट पर पहुँचने से पहले सेट पर एक वाकया  घटित हो गया. शूटिंग की समाप्ति के बाद संजीव कुमार अक्सर पीने बैठ जाते थे. उस दिन भी उन्होंने जमकर शराब पी ली  और फिल्म की हीरोइन सुचित्रा सेन को अपने कमरे में ले जाने की कोशिश करने लगे. संजीव कुमार के इस अप्रत्याशित व्यवहार से अवाक सुचित्रा सेन ने जोर जोर से चिल्लाना शुरू कर दिया। उनकी चीख सुनने के बाद गुलज़ार वहाँ पहुंचे और संजीव कुमार के चंगुल से सुचित्रा सेन को बचाया . इसके बाद गुलज़ार सुचित्रा सेन को पहुंचाने के लिए उनके कमरे तक गए. राखी जब सेट पर पहुँची तो गुलज़ार को सुचित्रा सेन के कमरे से निकलते देख बुरी तरह नाराज़ हो गयी। राखी ने गुलज़ार से इस बात की कैफियत मांगनी शुरू कर दी. गुलज़ार ने उन्हें समझाने की काफी कोशिशें की लेकिन राखी कुछ भी सुनने को तैयार नहीं थी . बात इतनी बढ़ गयी कि दोनों के बीच हाथापाई शुरू हो गयी और गुलज़ार ने सेट पर ही राखी  की बुरी तरह पिटाई कर दी. 

 गुलज़ार के इस व्यवहार से अपमानित राखी  सुबह होते ही यश चोपड़ा से मिलने जा पहुँची जो उन दिनों कश्मीर में ही अपनी फिल्म की लोकेशन ढूंढ रहे थे. मुलाक़ात के दौरान राखी  ने उनकी फिल्म “कभी-कभी में काम करने की सहमति दे दी।दरअसल गुलज़ार राखी के फिल्मों में काम करने के सख्त खिलाफ थे .इस बात को लेकर राखी और गुलज़ार के बीच हमेशा लडाइयां होती थी. आंधी के सेट पर जो भी हुआ उससे राखी ने गुलज़ार से अलग होने का मन बना लिया और फिल्मों में वापस लौटने का फैसला किया .राखी के इस फैसले को गुलज़ार ने माफ़ नहीं किया और दोनों हमेशा के लिए अलग हो गए .अगर गुलज़ार उस दिन संजीव कुमार के कमरे में नहीं गए होते तो शायद गुलज़ार का घर गुलज़ार ही रहता. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here