जब नाराज गोविंदा ने जूही चावला को कई फिल्मों से बाहर निकलवाया

0
185
गोविंदा अपने जमाने में काफी दबंग एक्टर रहे हैं. उनका अपने निर्माता-निर्देशकों पर जबरदस्त पकड़ रहा है. इसलिए कोई भी उनकी बात आसानी से टालता नहीं था. अभिनेत्रियों के मामले में गोविंदा की कुछ ख़ास चॉइस थी और वो उन्हीं अभिनेत्रियों के साथ काम करना पसंद करते थे. ये अलग बात है कि कई अभिनेत्रियों ने गोविंदा को इस्तेमाल किया और मौक़ा मिलते ही उनसे किनारा भी कर लिया. जूही चावला भी उनमें से एक थी. लेकिन खुद जूही को अपनी ये आदत तब महंगी पड़ गई जब नाराज गोविंदा ने जूही की मौकापरस्ती के खिलाफ मोर्चा खोल दिया.

1994 में निर्देशक विमल कुमार ने जूही चावला को गोविंदा के साथ फिल्म ‘दुलारा’ में कास्ट किया. गोविंदा ने जूही के नाम की सिफारिश की थी और जूही ने भी इसके लिए हामी भर दी थी. इसी साल जूही की फिल्म ‘बोल राधा बोल’ हिट हुई थी जिसकी वजह से इंडस्ट्री में उनकी डिमांड में जबरदस्त इजाफा हुआ. इसी बीच यश चोपड़ा ने उन्हें आमिर खान के साथ फिल्म ‘डर’ ऑफर कर दी. यश चोपड़ा को टाइम देने के लिए जूही ने ‘दुलारा’ में काम करने से इंकार कर दिया क्योंकि वो केवल बड़े बैनर के साथ ही काम करना चाहती थी. जूही द्वारा फिल्म छोड़े जाने से गोविंदा बुरी तरह नाराज हो गए और उन्हें सबक सिखाने की ठानी.

गोविंदा उन दिनों जबरदस्त डिमांड में थे और उनके पास कई फिल्में थी. उन्होंने अपने सारे निर्माताओं को अल्टीमेटम दे दिया कि वो जूही चावला के साथ काम नहीं करना चाहते. जूही के बदले उन्होंने करिश्मा कपूर को प्रमोट करना शुरू कर दिया. जिसका नतीजा ये निकला कि गोविंदा के साथ काम कर रहे निर्माताओं ने जूही को अपनी फिल्म से निकाल कर करिश्मा को साईन कर लिया और इस तरह जूही के हाथ से ग्यारह फिल्में निकल गई जिसमें डेविड धवन की चार फिल्में भी शामिल थी. हालांकि इससे जूही की सेहत पर तो ज्यादा फर्क नहीं पड़ा लेकिन करिश्मा कपूर जरूर स्टार बन गयी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here