इन अभिनेत्रियों ने बखूबी संभाली मां की एक्टिंग विरासत

0
256

बॉलीवुड में कई ख़ूबसूरत अभिनेत्रियों ने दशकों तक राज किया और समय बीतने के बाद इन्होने अपनी विरासत अपनी बेटियों को सौंप दी .आगे चलकर इनकी बेटियों ने भी मां की एक्टिंग विरासत को बड़ी कामयाबी से आगे बढ़ाया .आज हम आपको ऐसी माँ-बेटियों की जोड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने हिंदी सिनेमा में अपनी एक ख़ास पहचान बनाई है:

1. तनुजा/काजोल!तनुजा की माँ शोभना समर्थ और बड़ी बहन नूतन भी अपने समय की लोकप्रिय अभिनेत्रियाँ थीं। तनुजा दो बेटियों में से काजोल की लोकप्रियता में किसी से कम नहीं .काजोल की कामयाबी को छोटी बहन तनीषा नहीं दोहरा पाई .

3. शर्मिला टैगोर/सोहा अली खान!
शर्मिला टैगोर हिंदी और बंगाली फिल्मों की सशक्त अभिनेत्री रही हैं। उन्होंने बॉलीवुड को कई हिट फ़िल्में दी हैं जिसमें कश्मीर की कली, अमर प्रेम, आराधना,छोटी बहू, जैसी फ़िल्में भी शामिल हैं।  पटौदी खानदान में बेटियों को फिल्मों में काम करने की मनाही थी लेकिन शर्मिला की मर्जी के मुताबिक़ उनकी बेटी सोहा अली खान ने भी बॉलीवुड में कदम रखा। सोहा ने कई हिंदी फिल्मों में काम किया लेकिन उनकी सफलता का ग्राफ औसत ही रहा .अब सोहा शादी कर गृहस्थी में रम चुकी है. 

4. डिंपल कपाड़िया/ट्विंकल खन्ना!
डिंपल कापड़िया ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत मात्र 15 साल की उम्र में फिल्म बॉबी से की थी। डिंपल ने बॉबी,राम-लखन, सागर, बीस साल बाद और फाइंडिंग फैनी जैसी कई बेहतरीन फिल्मों में काम किया है। उनकी बेटी ट्विंकल ने बॉलीवुड में अपने करियर की शुरुआत फिल्म बरसात से की थी जो एक बहुत बड़ी हिट साबित हुई थी। उन्होंने इतिहास, बादशाह, जब प्यार किसी से होता है, इंटरनेशनल खिलाड़ी जैसी कई सफल फ़िल्में बॉलीवुड को दी हैं।

5. बबीता/ करिश्मा और करीना कपूर!
बबीता ने हिंदी सिनेमा को एक से बढ़कर एक कई बेहतरीन फ़िल्में दी हैं जिनमें राज़, हसीना मान जाएगी, फ़र्ज़, कल आज और कल जैसी फिल्मों के नाम शामिल हैं। कपूर खानदान की बेटियों को भी फिल्मों में काम करने की इजाजत नहीं थी लेकिन बबीता के सामने किसी की नहीं चली और  उनकी दोनों बेटियों ने अभिनय को करियर के रूप में चुना और वे दोनों ही उसमें काफी सफल भी रहीं।

6. हेमा मालिनी/ईशा देओल!
मशहूर अदाकारा हेमा मालिनी बॉलीवुड में “ड्रीम गर्ल” के नाम से जानी जाती हैं। उन्होंने बॉलीवुड में पहली बार सपनों के सौदागर से कदम रखा था। उसके बाद उन्होंने सीता और गीता, शोले, जॉनी मेरा नाम और बागबान जैसी फिल्मों में उत्कृष्ट अभिनय किया। उनकी बेटी ईशा देओल ने बॉलीवुड में आने के बाद कई हिट फिल्मों जैसे कैश, दस, धूमऔरनो एंट्री जैसी फिल्मों में अपने अभिनय से लोगों के दिलों में जगह बना ली थी।

]7. मुनमुन सेन/रिया सेन और राइमा सेन!
मुनमुन सेन हिंदी और बंगाली फिल्मों की अभिनेत्री हैं और वे जानी-मानी अभिनेत्री सुचित्रा सेन की बेटी हैं। उन्होंने अपनी शादी और मातृत्व के बाद फ़िल्मी दुनिया में कदम रखा और एक से बढ़कर एक उत्कृष्ट फिल्मों में अभिनय किया उनकी कुछ हिंदी फिल्मों में एक दिन अचानक,अंदर बाहर, मुसाफिर और 100 डेज जैसी फिल्मों के नाम शामिल हैं। उनकी दोनों बेटियाँ भी हिंदी और बंगाली भाषाओं की फिल्मों में एक जाना-माना चेहरा हैं।उनकी बड़ी बेटी राइमा सेन ने मनोरमा सिक्स फीट अंडर, एकलव्य, दस और परिणीता जैसी सफल फिल्मों में शानदार अभिनय का परिचय दिया तो छोटी बेटी रिया सेन ने झंकार बीट्स, क़यामत और स्टाइल जैसी फिल्मों से बॉलीवुड में अपना नाम बनाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here