जब Dharmendra के हाथों मरते-मरते बचे Amitabh Bachchan I SHOLAY

0
31

भारतीय सिनेमा की क्लासिक फिल्म ‘शोले’ आज भी दर्शकों की पसंद बनी हुई है .शोले से कई ऐसे हादसे जुड़े हुए हैं जो इस फिल्म से भी ज्यादा intersting है .मसलन आपको ये जानकर हैरानी होगी कि इस फिल्म के दौरान धर्मेन्द्र ने एक बार हेमा के कारण सुसाइड तक की कोशिश कर डाली .फिलहाल हम बात करेंगे इस फिल्म में जय का किरदार निभाने वाले अमिताभ बच्चन की और जानेंगे कि कैसे अमिताभ इस फिल्म की शूटिंग के दौरान धर्मेन्द्र के हाथों मरने से बाल बाल बच गए
.

ये घटना उस सीन के दौरान घटित हुई जब जय बने अमिताभ धर्मेन्द्र और हेमा को कुछ गाँव वालों के साथ बचाने निकले और उनका मुकाबला गब्बर से हो गया. जय की मदद से धर्मेन्द्र गब्बर के अड्डे से भागने में सफल रहे लेकिन भागने से पहले उन्होंने गोलियों से भरा एक बॉक्स भी उठा लिया. खबरों की मानें तो इस सीन के लिए शोले के एक्शन-डायरेक्टर ने सीन को रीयल दिखाने के लिए असली गोलियां मंगाई थी. असली गोलियों से भरे बॉक्स को धर्मेंद्र के पास रखा गया था. उन्हें उस बॉक्स को खोलना था. मगर शूटिंग के दौरान, धर्मेन्द्र, बहुत सारे रीटेक के बाद भी गोलियों का डब्बा नहीं खोल सके.वीरू अंत में कई रीटेक देने के बाद बंदूक की गोलियों वाला बॉक्स खोलने में कामयाब हो जाते हैं. सीन के हिसाब से धर्मेंद्र को बॉक्स को लात मार कर बंदूक की गोलियां अपनी जेब में रखनी थी मगर वो बदूंक में गोलियां भर देते हैं, जिसके बाद असली गोलियों से भरी बन्दूक से जब धर्मेंद्र ने फायरिंग शुरू की तो वहां मौजूद सब लोग डर गए. जिसमें से एक गोली अमिताभ को छूते हुए निकल गई .इन सबके बीच लोगों को लगा कि अमिताभ गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. हालांकि, वो सुरक्षित थे. बताया जाता है कि बाद में जब धर्मेंद्र को अपनी गलती का एहसास हुआ, तो उन्होंने अमिताभ बच्चन के साथ-साथ निर्देशक, रमेश सिप्पी से भी माफी मांगी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here