जब पति Amitabh Bachchan को मौत के मुंह से खींच लाई Jaya Bachchan

0
114

अमिताभ बच्चन के साथ हुए हादसे की पिछली कड़ी में हमने आपको बताया था कि जब डॉक्टरों की लाख मशक्कत के बाद अमिताभ कोमा से बाहर नहीं निकले और उनके शरीर ने रेस्पोंस देना बंद कर दिया तो बैंगलोर के डॉक्टर्स ने उन्हें मेडिकली डेड घोषित कर दिया। यानि वो ज़िंदा तो रहेंगे लेकिन कभी कोमा से बाहर नहीं निकल पाएंगे। तभी एक चमत्कार हुआ और अमिताभ बच्चन को नई ज़िंदगी मिल गयी। आखिर क्या था वो चमत्कार ? आइये जानते हैं..

जब डॉक्टरों ने अमिताभ बच्चन के टेस्ट किए तो पता चला कि उनकी आंत को काफी नुकसान पहुंचा था. अमिताभ की तबीयत धीरे धीरे बिगड़ती जा रही थी. उन पर दवाईयों का असर भी कम हो रहा था. आखिरकार डॉक्टरों ने उनकी सर्जरी करने का फैसला लिया और उनका ऑपरेशन किया गया. हालात में कुछ सुधार तो था लेकिन ज्यादा नहीं क्योंकि अमिताभ पहले से ही कुछ बीमारियों से घिरे थे. अमिताभ के शरीर में कोई हरकत नहीं हो रही थी। अब डॉक्टर्स को ऊपर वाले से ही आस थी। और ऊपरवाले ने भी उन्हें निराश नहीं किया. एक दिन बच्चन साहब के पास बैठी जया बच्चन ने उनके अंगूठे में कुछ कम्पन महसूस किया।

जया ने चिल्लाना सुरु कर दिया। उन्होंने डॉक्टर्स से कहा – मैंने अभी उनके पैर के अंगूठे हिलते देखे हैं, प्लीज कोशिश करते रहिए। डॉक्टरों ने उनके पैर की मालिश करनी शुरू की और उनके अंदर फिर जान आ गई।1 अगस्त को उनकी तबीयत में सुधार था जबकि 2 तारीख को अचानक अमिताभ की कंडीशन फिर बिगड़ गई। शरीर में जहर फैलने की वजह से डॉक्टर्स ने दोबारा ऑपरेशन किया, जो 3 घंटों तक चला। ये ऑपरेशन नाकामयाब रहा। लेकिन इससे ये तो साफ़ हो गया कि बच्चन की जिंदगी को बचाया जा सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here