Mard (Cinemascope):जानिए ! अमिताभ बच्चन की Superhit फिल्म से जुडी दिलचस्प बातें

0
49
दोस्तों ! एक बार हम फिर हाजिर हैं अपने ख़ास एपिसोड ‘सिनेमास्कोप’ के साथ .इस एपिसोड में आज हम बात करेंगे अमिताभ बच्चन और मनमोहन देसाई की फिल्म ‘मर्द’ और उससे जुड़े दिलचस्प बातों की .

८० के दशक में देशभक्ति बॉक्स ऑफिस पर एक बिकाऊ फॉर्मुला बन चुका था . मनमोहन देसाई ने इसी फौर्मुले को  मसालेदार अंदाज़ में पेश करने के लिए ‘मर्द’ की कहानी गढ़ी और अमिताभ बच्चन को लेकर फिल्म का ऐलान कर दिया .ये फिल्म पूरी तरह अमिताभ बच्चन के स्टारडम पर आधारित थी इसलिए कोई भी हीरोइन इस फिल्म में आसानी से काम करने को तैयार नहीं हुई तो मनमोहन देसाई ने बड़ी मुश्किल से रीना राय को फिल्म में काम करने के लिए तैयार किया .लेकिन बाद में रीना ने भी फिल्म छोड़ दी तो देसाई ने फिल्म की कहानी में फेरबदल करते हुए अमृता सिंह को हीरोइन के रूप में साइन कर लिया .


ऐसा कहा जाता है फिल्म के दौरान अमृता सिंह अमिताभ बच्चन पर फ़िदा हो गई .उन दिनों  अमृता सिंह और विनोद खन्ना का रोमांस चल रहा था .जल्द ही अमृता सिंह दो नावों की सवारी करने लगी .विनोद खन्ना को ये पसंद नहीं आया तो अमृता सिंह ने अमिताभ बच्चन से दूरियां बनानी शुरू कर दी .अमृता के इस व्यवहार से अमिताभ बच्चन नाराज हो गए और मनमोहन देसाई के बेटे केतन देसाई के जन्मदिन की पार्टी में अमृता सिंह  के साथ बदसलूकी कर बैठे .बड़ी मुश्किल से अमृता सिंह पार्टी से निकल भागने में सफल रही .

 


फिल्म में एक सीन था जहाँ अमिताभ  बच्चन अमृता सिंह को लेकर एक झोपड़े में घुस जाते हैं और वहां दोनों के बीच इन्टीमेट सीन फिल्माया जाता है .कहा जाता है की जब ये सीन फिल्माया जा रहा था तब देसाई के कट-कट बोलने के बावजूद अमिताभ बच्चन ने अमृता को कसकर पकडे रखा .पूरी यूनिट तालियाँ बजा-बजा कर मजे ले रही थी जिससे नाराज अमृता सिंह सेट छोड़कर चली गई थी .

मर्द के साथ ही अभिनेता जीतेंद्र की फिल्म ‘आग और शोला ‘ भी रिलीज हुई थी. दोनों फिल्म  का क्लाइमैक्स कमोबेश एक जैसा ही था .इस बात को लेकर मनमोहन देसाई जीतेंद्र पर चोरी का आरोप लगाते मामले को आसोशियेशन में ले गए लेकिन आसोशियेशन ने देसाई के आरोप को खारिज कर दिया.


मनोमोहन देसाई और प्रकाश मेहरा दोनों ही अमिताभ बच्चन के फेवरिट डाइरेक्टर थे लेकिन दोनों के बीच हमेशा तनातनी बनी रहती थी .इस फिल्म की रिलीज के बाद देसाई ने मेहरा पर कमेन्ट करते हुए कहा की ‘केवल शराबी ही शराबी जैसी फिल्म बना सकता है जबकि मर्द ,मर्द जैसी फिल्म बनाता है .देसाई के इस तंज का जवाब देते हुए मेहरा ने बयान दिया की केवल कूली ही ऐसी घटिया बातें कर सकता है .शराबी और कूली दोनों ही अमिताभ बच्चन की जबरदस्त हित फ़िल्में रही हैं .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here